नारायणपुर 21 मई 2020

यह दास्तांन है हैदराबाद से आये नारायण यादव की जिसने जिले के क्वारंटाईन सेंटर में 14 दिन गुजार कर एवं कोरोना के लक्षण ना पाए जाने के उपरांत उसकी घर वापसी हो रही है। क्वारंटाईन सेंटर में रहने के दौरान अनुभव साझा करते हुए उसने बताया कि इन 14 दिनों में उनकी प्रशासन के प्रति सोच पूर्ण रूप से बदल गयी है। जहां पहले वे प्रशासन को कोई खास दृष्टि से नहीं देखते थे, वह अब उनके गुणगान करते नहीं थक रहे। नारायण के साथ हैदराबाद से वापस लौटे उसके 4 दोस्तों ने बताया कि क्वारंटाईन सेंटर में रह रहे व्यक्तियों की हर दिक्कतों तथा हर सुविधा का ख्याल रखा जाता है। उन्हें शासकीय बालक बुनियादी आदर्ष विद्यालय गरांजी के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था, जहां सुविधाओं में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं थी। वक्त पर सभी चीजें मुहैय्या कराई जाती थी।
     

चूंकि तेलांगाना राज्य के हैदराबाद से आये थे। उन्हें रोज-रोज दाल-चावल ना भाता था और ना ही पाचन हो पाता था। अतः उन्होंने इस बारे में अधीक्षक से बात की, जिसके पश्चात प्रषासन ने उनके लिए अलग से रोटी उपलब्ध कराने का प्रबंध किया। उन्होंने बताया कि क्वारंटाईन सेंटर में साफ-सफाई, खाना, बिजली, पानी आदि सभी सुविधायें उपलब्ध करायी गयी। यहां काम कर रहे नोडल अधिकारी तथा मेडिकल टीम ने भी पूर्ण सहयोग दिया। उन्होंने कलेक्टर श्री पी.एस. एल्मा एवं प्रशासकीय और मेडिकल टीम का आभार व्यक्त किया। 14 दिनों के बाद घर वापस जा रहे सभी  व्यक्तियों ने खुशी-खुशी तथा आभार व्यक्त करते हुए सभी से विदा ली।


नारायण एवं उनके सार्थियों ने बताया कि वे तेलांगाना राज्य में कई वर्षों से मजदूरी का कार्य कर रहे थे। कोरोना वायरस का संक्रमण आ जाने तथा लॉकडाउन लागू हो जाने के कारण हैदराबाद में फंस गए थे। लॉकडाउन लागू होने के कारण अपने क्षेत्र में नहीं आ पा रहे थे। छत्तीसगढ़ सरकार ने तेलांगाना राज्य से समन्वय कर घर तक छोड़ने की व्यवस्था की। इसके बाद राज्य शासन के निर्देशानुसार कलेक्टर श्री एल्मा द्वारा हमको गांव तक पहुचानें की व्यवस्था की गई। इसके लिये मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल तथा जिला प्रषासन को धन्यवाद दिया। उन्होंने बताया कि जिले की सीमा पर उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया और भोजन की व्यवस्था भी मिली। हमें मार्ग में किसी भी प्रकार की असुविधा नहीं हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here